Ultimate magazine theme for WordPress.

शिवसेना ने कसा तंज पूरी दिल्ली हुई देशद्रोही

77

दिल्ली में भाजपा की उम्मीदों पर एक बार फिर पानी फिरने के बाद शिवसेना ने बीजेपी पर बड़ा तंज कसा है. दरअसल दिल्ली चुनावों के वक़्त भाजपा ने आम आदमी पार्टी को हराने के लिए पाकिस्तान को भी घसीट लिया है. किसी भाजपा नेता को दिल्ली चुनाव को भारत और पाकिस्तान का मैच बताया था…. तो किसी ने CAA विरोधियों को गोली से उड़ाने को बात कही …..तो कुछ ऐसे नेता भी थे जिन्होंने भाजपा को वोट नहीं देने वालों को देशद्रोही भी बताया था.हालाँकि भाजपा का यह दाँव काम नहीं आया ….और चुनावों में भाजपा को हार मिली. जिसके बाद शिवसेना ने भाजपा के कटे पर नमक छिड़का है. दरअसल शिवसेना के मुखपत्र सामना में बीजेपी पर व्यंग्य करते हुए कहा है कि बाप रे! पूरी दिल्ली देशद्रोही! आपको बता दें की संजय राउत ने साफ-साफ कहा कि मतदाता कभी बेईमान नहीं हैं….और अगर धर्म का बवंडर पैदा किया जाता है तो वो उसमें बहते नहीं हैं. उन्होंने कहा की राम श्रद्धा की जीत हैं लेकिन कुछ विजय हनुमान भी दिलाते हैं….और दिल्ली में ऐसा ही हुआ. संजय राउत ने लिखा है कि लोकसभा चुनाव में मजबूत और अभेद्य रही भारतीय जनता पार्टी विधानसभा चुनाव में ताश के पत्तों से बने बंगले की तरह धराशायी हो जाती है…. ऐसा दिल्ली विधानसभा चुनाव के परिणाम ने स्पष्ट कर दिया. उन्होंने कहा की भारतीय जनता पार्टी अजेय नहीं है और मोदी-शाह के कारण चुनाव जीता जा सकता है, इस दंतकथा से भी लोगों को अब तो बाहर निकलना चाहिए. इसके आगे शिवसेना सांसद ने कहा है कि अब बीजेपी का गुब्बारा फूटने की शुरुआत हो गई है. संजय राउत ने कहा कि बीजेपी को पहले ही लग गया था कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में बीजेपी की‘नैया’ डूब रही है, ये विश्वास होते ही बीजेपी ने हुकुम का इक्का बाहर निकाला. उन्होंने कहा की भाजपा ने सीधे प्रभु श्रीराम को ही चुनाव प्रचार में उतार दिया….और संसद के अधिवेशन के दौरान ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में रामजन्म भूमि ट्रस्ट की घोषणा करके बता दिया की राम मंदिर का कार्य प्रारंभ हो रहा है….. लेकिन राम मंदिर की घोषणा का कोई भी ‘करंट’ दिल्ली विधानसभा में नहीं ला सकी. उन्होंने कहा की शाहीन बाग में नागरिकता कानून के विरोध में मुसलमान धरने पर बैठे….लेकिन भाजपा ने इसका इस्तेमाल हिंदू बनाम मुसलमान के तौर पर किया, पर भारतीय जनता पार्टी की सबसे दयनीय हार हिंदुओं की बहुलता वाले निर्वाचन क्षेत्रों में ही हुई. यानी की भाजपा से देश का हर वर्ग नाराज है. इस तरह शिवसेना ने दिल्ली में भाजपा की हार पर कड़ा प्रहार किया की किस तरह भाजपा ने जनता को शाम, दाम, दंड, भेद सभी से खरीदने की कोशिश की ….लेकिन दिल्ली की जनता किसी से नहीं मानी और राज्य में भाजपा का लगभग अंत हो गया. वैसे शिवसेना ने जिस तरह से भाजपा पर तंज कसते हुए पुरे दिल्ली को देशद्रोही बताया है. उससे भाजपा को कड़ा सबक मिलेगा की वो चुनाव को सिर्फ चुनाव की तरह लड़ें ….और व्यर्थ में पाकिस्तान के नाम पर जितने का ख्वाब दिल से निकाल दें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.