Ultimate magazine theme for WordPress.

Uttar Pradesh Politics: Hema Malini makes a daring statement

76

17वीं लोकसभा में उत्तर प्रदेश की मथुरा सीट से एक बार जनता ने बीजेपी की हेमा मालिनी को चुनाव जिताकर भेजा है. किसी जमाने में अपने अपने के लिए मशहूर बॉलीवुड अभिनेत्री हेमा लगातार दूसरी बार लोकसभा सांसद चुनी गई हैं. लेकिन इस बार वह पहले से ज्यादा सक्रिय नजर आ रही हैं. वह संसद में अपने क्षेत्र की समस्याओं को उठा रही हैं साथ ही राष्ट्रीय समस्याओं की ओर भी उनका ध्यान है.जैसे की लोकसभा में उन्होंने डॉक्टरों की हड़ताल का मुद्दा उठाते हुए इससे पैदा होने वाली समस्याओं की ओर सदन का ध्यान दिलाया.

और हेमा ने अपने भाषण में कहा कि डॉक्टरों को देश में भगवान का दर्जा दिया जाता है और उनके साथ मारपीट नहीं होनी चाहिए. उन्होंने केंद्र सरकार से डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए कानून बनाने की मांग की ताकि डॉक्टरों के ऐसी घटनाओं के बाद हड़ताल पर न जाना पड़े.आपलोग को बता दे की हेमा मालिनी न सिर्फ सदन में देश के मुद्दों को उठा रही हैं बल्कि अपने संसदीय क्षेत्र मथुरा की जनता के प्रति भी सजग दिख रही हैं. और उन्होंने 4जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर उनके समाने मथुरा के विकास का मुद्दा उठाया.

हेमा मालिनी ने पीएम मोदी से खास तौर पर अपने क्षेत्र के लिए पीने का साफ पानी की व्यवस्था करने की मांग की. इसके जवाब में प्रधानमंत्री ने उन्हें बताया कि पानी के पानी के लिए कई परियोजनाएं अभी पाइप लाइन में हैं और इसके लिए जल संरक्षण की दिशा में भी काम किया जा रहा है.इस कड़ी में हेमा मालिनी ने मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से भी मुलाकात की है. और उन्होंने शिक्षा मंत्री से अपने क्षेत्र में केंद्रीय विद्यालय स्थापित करने की अपील की है ताकि उनके क्षेत्र के बच्चों को इसका लाभ मिल सके.

वैसे तो हेमा मालिनी ने पिछले दिनों लोकसभा में धन्यवाद प्रस्ताव को मुद्दे पर भी चर्चा की थी और जमकर मोदी सरकार की तारीफ की. उन्होंने केंद्र सरकार की महिला केंद्रित योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि उज्जवला, सौभाग्य और शौचालय बनाने से लोगों को काफी फायदा हुआ है.हालाँकि बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा और मथुरा से लगातार दूसरी बार सांसद चुनकर आईं हेमा मालिनी ने साल 2019 के चुनाव में जबर्दस्त जीत हासिल की लेकिन उन्हें मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली.

Leave A Reply

Your email address will not be published.